गुरुवार, 6 जनवरी 2011

मौत का टुम्मा (रसीद)

मौत ने तारीख़ तय कर,  उसपे टुम्मा कर दिया

हमने भी इसकर के फ़ौरन, मय पे चुम्मा कर दिया

----बवाल

टुम्मा  =  रसीद 
मय  =  शराब या भक्तिरस, आप जो भी मान लें

21 टिप्‍पणियां:

महेन्द्र मिश्र ने कहा…

बहुत ही भावुक अंदाज बबाल जी .... आभार

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi ने कहा…

वाह! बवाल भाई!
क्या कही है!

GirishMukul ने कहा…

डटके पियो शराब,पूजा घरों में आप
बेदम निढाल होके उसकी शरण रहो..!!

shiva ने कहा…

बेहतरीन पोस्ट :
shiva12877.blogspot.com

Prem Farrukhabadi ने कहा…

Bawaal bhai,
These two lines have depth of your heart feelings. apke khyaal ki daad deta hoon.Behtareen!!!

राजीव थेपड़ा ने कहा…

vaah....vaah....vaah.....vaah..... vaah....vaah....vaah....vaah....!!

संजय भास्कर ने कहा…

बेहतरीन पोस्ट :

संजय भास्कर ने कहा…

वाह!
वाह!
वाह!

Rahul Singh ने कहा…

अब कौन कह सकता है कि दर्शन को परिनिष्‍ठ भाषा की जरूरत होती है.

Patali-The-Village ने कहा…

बेहतरीन पोस्ट :

नीरज गोस्वामी ने कहा…

Gazab...Waah..

Neeraj

यशवन्त माथुर ने कहा…

आप सब को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभ कामनाएं.

सादर
-----
गणतंत्र को नमन करें

Asha ने कहा…

आप मेरे ब्लॉग पर आ कर प्रोत्साहित करते हैं |आभार
आशा

musaffir ने कहा…

hamesha ki tarah shandar. aabhar

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार ने कहा…

वाह बवाल जी वाह जी वाह !
सादर सस्नेहाभिवादन !

क्या बात है !
मय पे चुम्मा कर दिया

कुछ ग़लत नहीं किया …
थोड़ी सी जो पी ली है …
चोरी तो नहीं की है …

:)

ऐश किये जाएं … और चिंता फ़िक़्र ऐशट्रे में दिये जाएं …

हार्दिक शुभकामनाएं ! मंगलकामनाएं !
- राजेन्द्र स्वर्णकार

जी.के. अवधिया ने कहा…

भजन करो भोजन करो गाओ ताल तरंग।
मन मेरो लागे रहे सब ब्लोगर के संग॥


होलिका (अपने अंतर के कलुष) के दहन और वसन्तोसव पर्व की शुभकामनाएँ!

किलर झपाटा ने कहा…

ओफ़्फ़ो आगे भी तो बोलिये ना !!
हा हा।
होली की शुभकामनायें आपको बवाल दादा।

Vivek Jain ने कहा…

वाह!
Vivek Jain vivj2000.blogspot.com

सारा सच ने कहा…

nice कृपया comments देकर और follow करके सभी का होसला बदाए..

Dinesh pareek ने कहा…

आप की बहुत अच्छी प्रस्तुति. के लिए आपका बहुत बहुत आभार आपको ......... अनेकानेक शुभकामनायें.
मेरे ब्लॉग पर आने एवं अपना बहुमूल्य कमेन्ट देने के लिए धन्यवाद , ऐसे ही आशीर्वाद देते रहें
दिनेश पारीक
http://kuchtumkahokuchmekahu.blogspot.com/
http://vangaydinesh.blogspot.com/2011/04/blog-post_26.html

Dinesh pareek ने कहा…

आप की बहुत अच्छी प्रस्तुति. के लिए आपका बहुत बहुत आभार आपको ......... अनेकानेक शुभकामनायें.
मेरे ब्लॉग पर आने एवं अपना बहुमूल्य कमेन्ट देने के लिए धन्यवाद , ऐसे ही आशीर्वाद देते रहें
दिनेश पारीक
http://kuchtumkahokuchmekahu.blogspot.com/
http://vangaydinesh.blogspot.com/2011/04/blog-post_26.html