शनिवार, 1 नवंबर 2008

कर ली.......

नज़र ने नज़र से, मुलाकात कर ली !
रहे दोनों ख़ामोश, और बात कर ली !!

8 टिप्‍पणियां:

Udan Tashtari ने कहा…

बहुत उम्दा////


देखते ही रह गये,,,

और रात कर ली!!

अतः अब सोने चले!!!

संगीता पुरी ने कहा…

बहुत अच्‍छा।

मा पलायनम ! ने कहा…

.....और बात कर ली.अच्छा है.

अनुपम अग्रवाल ने कहा…

कहीं सुना हुआ मुझे याद आया कि ;
नज़रबाग में नज़र मिलाकर, नज़र को उसने नज़र से देखा ,
नज़र पड़ी जब नज़र के ऊपर, नज़र को घायल नज़र से देखा |
नज़र यूं इक नज़र है

seema gupta ने कहा…

"nazar mile bhee na thee, or unko dekh liya, juban khulee bee naa thee or baat bhee kr lee..."

Regards

योगेन्द्र मौदगिल ने कहा…

Wah...
pyare wah.....
नज़र भर के उसने मुलाकात कर ली
खामोश दोनों मगर बात कर ली

बवाल ने कहा…

क्या बात है संगीता जी, बहुत सुंदर लेख है जी, बड़ा ज्ञान वर्धक. विचारणीय.

Vivek Gupta ने कहा…

बहुत सुंदर