गुरुवार, 4 सितंबर 2008

किस बनाम चुम्बन (सन्दर्भ : समीरलाल जी की पोस्ट २६ अगस्त)

दिल-दिमाग़ दम साधे देखा किया, लो बयाँ ज़बानी ?
किस किस को किस किया कहाँ कैसे क्या कहें कहानी !
----बवाल

एक चुम्बन ही तुम्हारा, वो असर कर जायेगा !
या तो बन्दा जी उठेगा, या के बस मर जायेगा !!
----बवाल

5 टिप्‍पणियां:

Udan Tashtari ने कहा…

क्या बात है, बवाल!! आनन्द आ गया!!! बहुत सही.

जन्म दिन मुबारक हो!!

निरन्तर - महेंद्र मिश्रा ने कहा…

gajab ki prastuti babal ji
janmadin ki dhero badhai or shubhkamana .

bavaal ने कहा…

Shukriya ji shukriya aap sabka.

seema gupta ने कहा…

किस किस को किस किया कहाँ कैसे क्या कहें कहानी !
" beautiful words. belated happy birthday sir, wish u good luck"
Regards

shyam kori 'uday' ने कहा…

बजनदार,असरदार!